20220503_160231
  1. Happy Mother’s Day 😍 Special True Story In Hindi | Motivational & Inspirational | #AllTheMoms
  2. वह तो बस दुनिया के रिवाजों की बात है वरना संसार में मां के अलावा कोई भी सच्चा प्यार नहीं करता दोस्तो आपको याद होगा कुछ समय पहले जापान में एक भयानक भूकंप आई थी और उसी समय की एक दिल को छू लेने वाली सच्ची घटना मैं आपके साथ शेयर करने जा रहा हूं अगर यह कहानी आपको अच्छी लगे तो कमेंट में अपनी दिल की बात जरूर लिखिए गा तो चलिए बिना आपका समय लिए शुरू करते हैं भूकंप के बाद बचाव कार्य करने वालों की टीम एक महिला के पूरी तरह से गिरे हुए घर की जांच कर रहा था वादी दरारों में से उन्होंने देखा तो महिला बहुत ही अजीब अवस्था में बैठी थी वैसे ही कुछ जैसे लोग मंदिरों में बैठकर पूजा करते हैं या फिर मस्जिद में बैठकर नमाज पढ़ते हैं लेकिन उन्हें कुछ साफ से दिखाई नहीं दे रहा था काफी मेहनत के बाद बचाव दल के लोगों ने बाजी दरारों में से थोड़ी सी जगह बनाकर अपना हाथ महिला की तरफ बढ़ाया उन्हें उम्मीद थी कि शायद महिला जिंदा हो लेकिन मकान के गिर जाने से उस महिला की पीठ और सर पर काफी चोट लगी थी और छूकर देखा गया तो पूरा शरीर ठंडा हो चुका था बचाव दल को समझ आ गया कि महिला अब जीवित नहीं बची है ऐसा जानने के बाद भी उस घर को छोड़कर
    दूसरे मकानों की तरफ चल पड़े लेकिन उस टीम के हेड का कहना था कि पता नहीं क्यों मुझ उस महिला का घर अपनी तरफ खींच रहा था कुछ तो था जो मुझे कह रहा था कि मैं इस घर को ऐसे छोड़कर ना जाऊं इसीलिए उन्होंने अपनी टीम को वापस घर की अच्छी से जांच करने का आदेश दिया बचाव दल एक बार फिर उस महिला के घर की तरफ पहुंचा और इस बार बचाव दल के प्रमुख ने खुद मलबे को सावधानी से हटा कर उस महिला को वहां से निकालने की कोशिश करने लगा तभी उसके मुंह से निकला यहां एक बच्चा भी है अब पूरा दल अच्छी तरीके से मलबे को हटाने में लग गया तब उन्होंने देखा कि महिला के मृत शरीर के नीचे एक टोकरी में वेस में कंबल में लिपटा हुआ करीब 3 महीने का एक छोटा सा बच्चा है वहां पर खड़े सभी लोगों को समझ में आ गया था कि महिला ने अपनी बच्ची को बचाने के लिए अपने जीवन का त्याग किया है भूकंप के समय जब घर गिरने वाला था महिला ने अपने शरीर से सुरक्षा देकर अपने बच्चे की रक्षा करने की कोशिश की थी डॉक्टर की टीम भी बहुत ही जल्द वहां पहुंच गई उन्होंने जब बच्चे की जांच की तब बच्चा बेहोश था डॉक्टर ने बच्चे से लिपटे हुए कंबल को हटाया तो उन्हें वहां एक लेटर मिला
    जिसमें लिखा हुआ था मेरे बच्चे अगर तुम बच गए हो तो बस इतना याद रखना कि तुम्हारी मां तुमसे बहुत प्यार करती थी उस लेटर को पढ़ने के बाद सबकी आंखें नम हो गई आपका बहुमूल्य समय देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद इस ब्लॉग को सब्सक्राइब कर ले आपको यह कहानी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद

By Reema Srivastava

I AM REEMA SRIVASTAVA

Leave a Reply

Your email address will not be published.