20220421_162008
  1. पिछले कुछ दिनों से Covid 19 के मरीजों मे हो रही बढ़ोतरी पुरी दुनिया को खौफ के माहौल मे धकेल रही है।वैसे WHO के मुताबिक दुनिया भर मे Corona के Cases मे कमी आ रही है।मगर ऐसे कई देश है जहां हर रोज के हिसाब से Corona के cases मे भारी उछाल देखा जा रहा है।इन देशो मे India भी शामिल है।India मे अभी cases 2000 के आंकड़े को पार कर चुके है।जिससे केंद्र सरकार समेत सभी राज्यों की सरकारे सतर्क हो गयी है।

    जिस देश से इस Virus की शुरुवात हुई थी वो देश भी इससे नही बच पाया है।यहा बात China की हो रही है।China मे कल 18000 हजार Corona के cases को report किया गया है।China मे ज्यादातर Cases एक ही शहर से आ रहे है,China की आर्थिक राजधानी Shanghai से।यहां रोज बढ़ रहे है cases को देखते हुए पिछले 3 हफ्तों से बहुत ही ज्यादा कठोर Lockdown लगा हुआ है।शंगाई के अलावा भी कई शहरों मे lockdown लगाया गया है। मार्च महीने मे China मे Omicron का sub variant BA. 2 और XE variant काफी तेजी से फैला था।अभी की अगर परिस्थिति देखे तो report के मुताबिक China मे Corona Cases मे गिरावट देखी जा रही है।लेकिन तब भी China की सरकार पाबंदियों मे किसी भी तरह की छुट देने पर विचार नही कर रही है।मगर यह सवाल उठता है की China की सरकार आखिर ऐसा क्यो कर ही है?क्यूंकि जब India मे Corona की तीसरी लहर आयी थी तब यहा रोज 2 से 3 लाख cases detect की गए थे।मगर किसी भी शहर मे या राज्य मे इतनी सख्त पाबंदी नही लगाई गई थी,बावजूद मौत का आकड़ा बहुत कम रहा था।क्योंकि ज्यादातर लोगो ने vaccine के दोनो dose लिए हुए थे।

    China मे भी तो ज्यादातर लोग vaccinated है,फिर भी सरकार इतनी सख्त पाबंदिया क्यो लगा रही है?इसके पीछे का कारण है,China के सरकार की Zero Covid Policy।

  2. China की Zero Covid Policy क्या है?

    China की सरकार ने Corona की लड़ाई मे एक policy बनाई।जिसके मुताबिक China मे ऐसी परिस्थिति बनाई गई जिससे यहां Corona का एक भी case ना निकले।मतलब Corona का नामोनिशान तक मिटा दिया जाएगा,फिर इसके लिए कितने भी कठोर पाबंदिया,या Lockdowns ही क्यो ना लगाना पड़े।Health Department को high alert पर रखा जाता है और उन्हे ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग करने के निर्देश दिये जाते है।आज के वक्त China मे जो परिस्थिति बनी हुई है, इस policy की वजह से लोगो को भारी संकटो का सामना करना पड़ रहा है।भले ही China की सरकार इस policy को कितनाही बेहतर मानती हो मगर दुनिया के ज्यादातर देश इसे एक बहुत ही खराब policy मानते है।

  3. यह तो बात रही China की मगर India मे परिस्थितिया कैसी बनी हुई है?और क्या Corona की चौथी लहर आ सकती है?

    साल की शुरुवात मे जब India मे Corona की तीसरी लहर ने दस्तक दी थी।उस वक्त देश की ज्यादातर जनता vaccinatd थी और पिछला सबक सीखते हुए सरकार और आम नागरिक भी इसके लिए पुरी तरह तयार थे।जिस वजह daily के 2-2,3-3 लाख cases निकलने के बावजूद उसका खासा असर लोगों की रोजमर्रा की ज़िंदगी पर देखने को नही मिला था।लेकिन इस वक्त दुनिया मे जो Omicron variant dominate कर रहा है,उसमे काफी ज्यादा mutation देखे जा रहे है।जिसमे उसके BA.1,BA. 2 और हाल ही या समय मे XE variant काफी मजबूती से अपने पैर पसार रहे है।अगर आगे कोई ऐसा variant आ जाए जिसको Vaccine से भी कोई फर्क ना पड़े तो फिर फिरसे पुराना समय लौटने मे ज्यादा time नही लगने वाला।इसीको देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारे सतर्क हो गयी है।

    देश मे अभी 2 हजार से भी ज्यादा case report किये जा रहे है।जिसमे आधे case तो sirf राजधानी दिल्ली से ही आ रहे है।जिसे देखते हुए दिल्ली मे Mask अनिवार्य कर दिया गया है।UP सरकार ने भी दिल्ली से सटे क्षेत्रो मे Mask अनिवार्य कर दिया है और आज से Punjab मे भी Mask लगाना पुरी तरह अनिवार्य कर दिया गया है।mask लगाए ना दिखने पर भारी जुर्माना भी भरना पड़ेगा।

    अभी के लिए तो उतनी चिंता करने की बात नही है मगर वैज्ञानिको के हिसाब से June महीने मे Corona की चौथी लहर india मे दस्तक दे सकती है।इसे पुरी तरह पुष्टि नही हो पायी है।लेकिन लहर आएगी ही नही,यह भी तो नही कहा जा सकता। जिस कारण हमे अभी से ही अपने आप को तयार रखने की आवश्यकता है।यह कहना भी गलत नही होगा की हम ही चौथी लहर को रोक सकते है बशर्ते हम अपनी जिम्मेदारियों को समझकर Mask लगाना ना भूले,Social distancing का पालन करे। stay safe

By Reema Srivastava

I AM REEMA SRIVASTAVA

Leave a Reply

Your email address will not be published.